DNS SERVER क्या होता है?

DNS server

What is a DNS SERVER?

एक DNS SERVER (डी एन एस सर्वर) क्या है?

डोमेन नेम सिस्टम (Domain Name System – डीएनएस) सार्वजनिक वेब साइटों और अन्य इंटरनेट डोमेन के नामों के प्रबंधन के लिए एक प्रौद्योगिकी मानक है। जैसे ही आप अपने वेब ब्राउज़र पर किसी वेबसाइट का नाम जैसे www.google.com टाइप करते हैं, DNS टेक्नोलॉजी के द्वारा आपका कंप्यूटर स्वचालित रूप से इंटरनेट पर वेबसाइट का पता लगाने के लिए अनुमति देता है. डीएनएस की मूल कार्यप्रणाली डीएनएस सर्वर का एक विश्वव्यापी संग्रह पर आधारित होती है.

एक DNS सर्वर डोमेन नाम प्रणाली में शामिल होने के लिए पंजीकृत कोई भी कंप्यूटर हो सकता है.

एक DNS सर्वर विशेष प्रयोजन के नेटवर्किंग सॉफ्टवेयर चलाता है और इसमें अन्य इंटरनेट होस्ट के लिए नेटवर्क के नाम और पतों की एक डेटाबेस शामिल होती हैं.

DNS रूट सर्वर (DNS ROOT SERVERS)

डीएनएस सर्वर एक दूसरे से निजी नेटवर्क प्रोटोकॉल का उपयोग करके संवाद स्थापित करते हैं. सभी DNS सर्वर एक पदानुक्रम में व्यवस्थित होते हैं. पदानुक्रम के शीर्ष स्तर पर रूट सर्वर होता है जो इंटरनेट डोमेन नामों और उनसे सम्बंधित आईपी पतों (IP address) का एक पूरा डेटाबेस का संग्रह करता है. इंटरनेट के 13 रूट सर्वर है जो उनकी विशेष भूमिका के आधार पर कार्यरत हैं। विभिन्न स्वतंत्र एजेंसियों द्वारा इन सर्वरों को मेन्टेन किया जाता है. दस डी एन एस सर्वर संयुक्त राज्य अमेरिका में, एक जापान में, एक लंदन में, एक ब्रिटेन में और स्टॉकहोम में एक सर्वर कार्यरत हैं.

DNS कैसे काम करता है?

डीएनएस एक वितरित डेटाबेस प्रणाली है. केवल 13 रूट सर्वर नाम और पते का पूरा डेटाबेस होते हैं.

आपके आईएसपी (ISP) भी स्वयं का डीएनएस सर्वर स्थापित रखता है.

DNS क्लाइंट / सर्वर नेटवर्क आर्किटेक्चर पर आधारित है. आपका वेब ब्राउज़र एक DNS क्लाइंट के रूप में कार्य करता है (इसे DNS रिसोल्वर भी कहा जाता है). वेब साइटों के बीच नेविगेट करते समय यह अपने इंटरनेट सेवा प्रदाता के DNS सर्वरों को अनुरोध भेजता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *