एक सेल फोन मॉडेम (Cell Phone Modem) कितना तेज होता है?

cell phone modem

एक सेल फोन मॉडेम (Cell Phone Modem) कितना तेज होता है?

डिजिटल सेल फोन  जिन्हें “Smartphones”  भी कहा जाता है, उपयोगी इंटरनेट क्लाइंट उपकरण रहे हैं. यदि  Smartphone ठीक तरीके से आपके कंप्यूटर से जुड़ा है तो वो भी एक सामान्य प्रयोजन नेटवर्क मॉडेम (Network Modem) के रूप में कार्य कर सकता है.

जब वाई-फाई हॉटस्पॉट (Wi-Fi Hotspot) एवं अन्य तरह सभी विकल्प असफल हों तब आप अपने सेल फोन का उपयोग मॉडेम (Modem) के रूप में कर सकते हैं जो एक पोर्टेबल इंटरनेट कनेक्टिविटी (Portable Internet Connectivity) पाने के लिए एक तरीका प्रदान करता है.

सेलुलर प्रौद्योगिकी का पीढ़ी दर पीढ़ी प्रदर्शन

आधुनिक सेल नेटवर्क टेक्नोलॉजी “3G “, “3.5G” या “4G” वर्गीकरण के अंतर्गत आते हैं. इसमें LTE, HSPA, EV-DO, और EDGE शामिल हैं. 3G तकनीक 0.5 एमबीपीएस (Mbps) से 4 Mbps के बीच डाउनलोड स्पीड (Download speed) प्रदान करते हैं. 3.5G और 4G डाउनलोड के लिए 10 एमबीपीएस (और कभी कभी इससे भी अधिक) प्रदान करते हैं.

पूरानी सेल तकनीक  जैसे GPRS (आम तौर पर “2.5G” के रूप में माना जाता है) जो की दुनिया के अधिकतर विकसित हिस्सों में तेजी से अप्रचलित हो रही है  और वैसे ही CDMA और GSM जिनकी गति करीब 100 केबीपीएस या कम एक एनालॉग डायल-अप इंटरनेट मॉडेम के जैसी होती है.

किसी भी स्थान पर सेल कनेक्शनों का परफॉरमेंस और गुणवत्ता सेवा प्रदाताओं, भौगोलिक स्थितयों और सक्रिय ग्राहकों की संख्या पर निर्भर करता है.

सैद्धांतिक बनाम वास्तविक सेल मोडेम का प्रदर्शन

सेल फोन मॉडेम की वास्तविक बैंडविड्थ कई कारकों पर निर्भर करती है:

  • फ़ोन के वायरलेस सिग्नल की गुणवत्ता (आम तौर पर निकटतम सेल टॉवरदूरी)
  • सेल फोन सेवा प्रदाता के नेटवर्क पर नेटवर्क ट्रैफिक की स्थिति.
  • प्रदाता द्वारा नियोजित संचार नेटवर्क प्रोटोकॉल का संस्करण.

इत्यादि.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *